Jaivik khad Banane Ki Vidhi : बिना किसी खर्चे के किसान अपने घर पर ही बनाए जैविक खाद, ये रहा तरीका FREE

Jaivik khad Banane Ki Vidhi
Jaivik khad Banane Ki Vidhi


आज के इसलिए एक में हम किसान साथियों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण और काम की खबर लेकर आए हैं क्या आपको पता है कि किसान भाई अब अपने खेत में ही जैविक खाद को तैयार कर सकते हैं जिसके लिए आपको कोई रुपए नहीं देने यानी आप बिना किसी खर्चे के स्वयं जैविक खाद बनाकर तैयार कर सकते हैं और अपने खेत में इसका उपयोग भी कर सकते हैं जैविक खाद बनाने का सबसे आसान तरीका क्या है जैविक खाद कैसे बनाएं इस प्रकार के सभी सवालों के जवाब हम आपको इस लेख के माध्यम से प्रदान करेंगे

Jaivik khad Banane Ki Vidhi

सभी किसानों को इन 15 कृषि यंत्रों पर मिल रही है 50% सब्सिडी, जल्दी आवेदन करें FREE

आज के जमाने में जैविक खाद बहुत ही लोकप्रिय हो रहा है इसी बीच यदि किसान बाजार से जैविक खाद खरीदता है तो बहुत ही महंगा मिलता है जैविक खाद का प्रयोग भूमि की उर्वरक शक्ति को बढ़ाने के लिए किया जाता है किसान साथी अपनी फसल की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए जैविक खाद का उपयोग करता है जैविक खाद से किसान की भूमि की उर्वरक क्षमता बढ़ती है

जैविक खाद का उपयोग करके किसान अपनी फसल और मिट्टी दोनों की उत्पादकता बढ़ा सकता है क्योंकि रासायनिक खाद डालने से मिट्टी में ऊपजाऊ क्षमता बहुत कम हो जाती है लेकिन बहुत से किसानों को यह नहीं पता है कि जैविक का तैयार कैसे किया जाता है तो हम आज आपको बताएंगे कि आप घर बैठे जैविक खाद किस प्रकार से तैयार कर सकते हैं

PROM तकनीकी के द्वारा खाद तैयार करना
Jaivik khad Banane Ki Vidhi


इस तकनीकी के द्वारा जैविक खाद तैयार किया जाता है इसके लिए सबसे पहले किसान को गाय के गोबर को लेना होता है इसके लिए किसान को गोबर, साथ ही फसलों की टूटे-फूटे तने और रॉक फास्फेट और अन्य प्रकार की खली को मिलाकर इस खाद को तैयार किया जाता है यह खाद बहुत ही ज्यादा उर्वरक क्षमता बढ़ाता है साथ ही यह पौधों में फॉस्फेट की कमी को भी दूर करता है

कैसे बनाएं जैविक खाद
Jaivik khad Banane Ki Vidhi


PROM तकनीकी से घर पर आसानी से यह खाद बनाया जा सकता है इसके लिए फॉस्फेट की मात्रा अधिक आवश्यक होती है साथ में ही गोबर और कूड़ा कचरा मिलाया जाता है जिसके लिए लगभग 500 किलो गोबर एक गढे में डाला जाता है और साथ में ही इसमें नीम की पत्तियां और अन्य पेड़ पौधों की पत्तियां डाल दी जाती हैं इसके बाद इसमें 500 किलो रोग फास्फेट पाउडर भी मिलाया जाता है इस प्रकार इस पर गोबर छिड़क कर कुछ दिनों के लिए रख दिया जाता है और उसमें वेस्ट डी कंपोजर का छिड़काव भी कर दिया जाता है

इतने दिन में जैविक खाद तैयार


यह लगभग 1 महीने के लिए रखना होता है एक महीने बाद यह खाद तैयार हो जाएगी यह खाद पौधों के लिए बहुत ही आवश्यक होती है और पौधों की जड़ों को बहुत ही मजबूत बनाता है साथ ही यह उर्वरक क्षमता को भी बहुत बढ़ावा देता है

जैविक खाद के फायदे check
Jaivik khad Banane Ki Vidhi
  • जैविक खाद फसलों के लिए बहुत ही लाभकारी होता है
  • इसमें खर्च भी बहुत कम आता है
  • मिट्टी की उर्वरक क्षमता बढ़ती है
  • मिट्टी जल सूखने की क्षमता भी बहुत अधिक हो जाते हैं
  • जैविक खाद से फसलों सब्जियों और फूलों की पैदावार अधिक मिलती है
  • जैविक खाद का उपयोग करने से इंसानों को भी स्वस्थ फसल और सब्जियां मिल सकती हैं साथ ही स्वास्थ्य को भी ध्यान में रखा जाता है

इस प्रकार जैविक खाद का उपयोग करके फसलों की उर्वरक क्षमता और मिट्टी की उपजाऊपन को बढ़ाया जा सकता है आप इस विधि के द्वारा आसानी से घर बैठे जैविक खाद तैयार कर सकते हैं जिसके लिए आपको ज्यादा खर्चा भी नहीं करना पड़ता है और रसायनों पर होने वाले खर्चे से आसानी से बचा जा सकता है

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top