Papaya Farming Subsidy : सरकार के द्वारा किसानों को पपीते की खेती पर प्रदान की जा रही है 75% सब्सिडी, जल्दी आवेदन करें FREE

Papaya Farming Subsidy


Papaya Farming Subsidy हमारे देश में फसलों के साथ-साथ फलों का उत्पादन भी बहुत अधिक किया जाता है जिससे किसान भाइयों की आमदनी वृद्धि को मध्य नजर रखते हुए सरकार ने उनके लिए बहुत सारी योजनाएं और फायदे चला रखे हैं इसी बीच किसान अनेकों पशुओं और फलों की खेती करने पर सब्सिडी भी प्रदान करते हैं यदि आप भी एक किसान है और आप पपीता की खेती करना चाहते हैं तो आपको भी पपीता लगाने के लिए 75% तक की सब्सिडी मिलेगी यदि आप भी इस सब्सिडी को लेना चाहते हैं तो और इसका फायदा कैसे मिलेगा और आवेदन कहां से करना है संपूर्ण जानकारी हम आपको इस लेख के द्वारा बताएंगे तो आप लेख से जुड़े रहें

Papaya Farming Subsidy

बिना मिट्टी के हवा में होगी आलू की खेती, इस तकनीक से 10 गुना ज्यादा पैदावार

75% अनुदान मिलेगा


Papaya Farming Subsidy आपको बता दे कि बिहार सरकार के द्वारा पपीता के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए किसानों को अनुदान देखकर उन्हें प्रेरित कर रही हैं बिहार सरकार के द्वारा किसानों को पपीता की खेती करने पर 75% तक अनुदान दिया जा रहा है यदि आप भी पपीता बोने के इच्छुक है और इस सब्सिडी का फायदा लेना चाहते हैं तो आवेदन जल्दी से करना होगा का आवेदन करने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा

सभी किसान ध्यान दें रबी फसल का बीमा करवाने का आखिरी मौका, अंतिम तिथि नजदीक

पपीता की खेती पर कैसे मिलेगा सब्सिडी
Papaya Farming Subsidy


Papaya Farming Subsidy सरकार के द्वारा बिहार सरकार के द्वारा बागवानी को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना के तहत किसानों को अनुदान दिया जा रहा है जिसमें पपीते का सब्सिडी अलग से दिया जाता है यदि पपीते की निर्धारित लागत किसानों के अनुसार लगभग ₹60,000 प्रति हेक्टर निर्धारित की गई है यदि ₹60000 की लागत आती है तो किसान को 45000 रुपए प्रति हेक्टेयर अनुदान सरकार के द्वारा दिया जाता है

Papaya Farming Subsidy आप भी इस सब्सिडी को प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको जल्दी आवेदन करना पड़ेगा जिसके तहत आपको प्रथम किस्त में 75% यानी की 37000 प्रति हेक्टेयर पपीता का बागान लगाने के लिए अनुदान दे दिया जाएगा इसके बाद आपको पपीता की खेती करने के लिए न्यूनतम एक हेक्टेयर और अधिकतम 4 हेक्टेयर तक के लिए अनुदान दिया जाएगा गैर-रैयत किसान भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं

पपीते की खेती पर अनुदान के लिए आवेदन check
  • यदि आप किसान है और पपीते की खेती पर अनुदान प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा
  • आपको विभागीय वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा, वेबसाइट का लिंक आपको नीचे प्रदान किया गया है
  • आवेदन करने के लिए किसानों के पास डीबीटी पोर्टल पर पंजीकरण होना आवश्यक है यदि आपका डीबीटी पोर्टल पर पंजीकरण नहीं करवाया हुआ है तो जल्दी से करवा लीजिए dbtagriculture.bihar.gov.in
  • इसके के बाद आपको इसके बाद आपको पपीते की खेती पर सब्सिडी प्राप्त हो जाएगी और आप आसानी से इसका लाभ ले सकते हैं

सब्सिडी के लिए यहां से क्रिया आवेदन : – Click Here

आजके इस लेख में हमारे द्वारा दी गई जानकारी यदि आपको अच्छी लगी है तो अपने बाकी किस साथियों को भी सोशल मीडिया पर साझा करें और यदि इस स्कीम को लेकर आपके मन में कोई भी सवाल है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में जरूर लिख सकते हैं

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top